आरज़ू…!!!


.
.
एक आरज़ू है दिल में हम भी किसीके हो ले,
सर अपना हम किसीके शाने पे रखके सो ले.
.
.
जादू भरी नज़र से वो देखते है हमको,
दिल का सफ़ीना उनकी आँखों में हम डुबो ले.
.
.
हसरत के बादलों से यादें किसीकी बरसे,
ख्वाबों की धरती जिसमे जी भरके हम भिगो ले.
.
.
इस दिलने चाहा जैसा, मिल जाये कोई ऐसा,
दीदार जिसका पा के दिल का क़रार खो ले.
.
.
महफ़िल में, अंजुमन में, दुनिया के इस चमन में,
दिल से कोई सुने तो दिल की ज़बान बोले.
.
.
ख़ूने-जिगर के क़तरे बन जायें काश मोती,
जिनको किसीके दिलकश गेसू में हम पिरो ले.
.
.
यादें किसी की, मेरी नींदे उड़ा चुकी है,
आँखों में ख्वाब भरके जागी नज़र से सो ले.
.
.

हर लम्हा मुझसे मेरी वहशत ये कह रही है,
चंदा की चांदनी में सूरज की धूप घोले.
.
.
खुद आईना भी हमसे ये बात कह रहा है,
चहरे को धोया बरसो, दिल को भी आज धो ले.
.
.
अब इस बहाने दिल की वहशत का हक अदा हो,
दस्तक न दी किसीने, दरवाज़ा फिर भी खोले.
.
.
दिल ले के जान मत ले, ये इम्तहान मत ले,
हम बेहिजाब तेरे कितने हिजाब खोले?
.
.
अब रह गया क्या बाकी, तू ही बता ए साक़ी,
बैठा है मयकदे में, वाइज़ से हम क्या बोले?
.
.
रंजोगम से दिल का रिश्ता है इतना गहरा,
हँसने की बात पर भी दिल चाहता है रो ले.

.

.
– हर्ष ब्रह्मभट्ट

Advertisements

2 thoughts on “आरज़ू…!!!

  1. एक आरज़ू है दिल में हम भी किसीके हो ले…હજુ પણ આવી આરઝૂ છે ?
    Wish you a very Happy Valentine’s Day.
    I love you & miss you very much.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s